Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Naazon Ke Pale / नाज़ों के पले काँटों पे चलें

नाज़ों के पले काँटों पे चलें ऐसा भी जहां में होता है
तक़दीर के ज़ालिम हाथों से दिल ख़ून के आँसू रोता है

नित जिन में चिराग़ाँ रहता था, ख़ाक उड़ती है उन ऐवानों में 
मख़मल पे न रखते थे जो कदम फिरते हैं वो रेगिस्तानों में 

चलने का सहारा कोई नहीं रुकने का ठिकाना कोई नहीं 
इस हाल में काम आनेवाला अपना-बेगाना कोई नहीं 

दुनिया में किसी को भी अपनी क़िस्मत का लिखा मालूम नहीं
सामान हैं लाखों बरसों के और कल का पता मालूम नहीं


Naazon Ke Pale Lyrics

Naazon ke pale kaanton pe chalen aisa bhi jahaan men hota hai
Taqadir ke zaalim haathon se dil khun ke ansu rota hai

Nit jin men chiraagaan rahata tha, khaak udati hai un aiwaanon men 
Makhamal pe n rakhate the jo kadam firate hain wo registaanon men 

Chalane ka sahaara koi nahin rukane ka thhikaana koi nahin 
Is haal men kaam anewaala apana-begaana koi nahin 

Duniya men kisi ko bhi apani qismat ka likha maalum nahin
Saamaan hain laakhon barason ke aur kal ka pata maalum nahin

Additional Information

गीतकार : साहिर लुधियानवी, गायक : तलत मेहमूद, संगीतकार : सचिन देव बर्मन, चित्रपट : शहनशाह (१९५३) / Lyricist : Sahir Ludhianvi, Singer : Talat Mehmood, Music Director : Sachin Dev Burman, Movie : Shehanshah (1953)

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

May 26 2020

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2020 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines