Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Bhare Jahan Mein Koi Mera / भरे जहाँ में कोई मेरा यार था ही नहीं

भरे जहाँ में कोई मेरा यार था ही नहीं 
किसी नज़र को मेरा इंतज़ार था ही नहीं 

न ढूंढिए मेरी आँखों में रतजगों की थकन 
ये दिल किसी के लिए बेक़रार था ही नहीं

सुना रहा हूँ मोहब्बत की दास्ताँ उसको
मेरी वफ़ा पे जिसे ऐतबार था ही नहीं

'क़तील' कैसे हवाओं से मांगते ख़ुश्बू 
हमारी शाम में जिक्र-ए-बहार था ही नहीं

Bhare Jahan Mein Koi Mera Lyrics

Bhare jahaan men koi mera yaar tha hi nahin 
Kisi nazar ko mera intazaar tha hi nahin 

N dhundhie meri ankhon men ratajagon ki thakan 
Ye dil kisi ke lie beqaraar tha hi nahin

Suna raha hun mohabbat ki daastaan usako
Meri wafa pe jise aitabaar tha hi nahin

'aqatila' kaise hawaaon se maangate khushbu 
Hamaari shaam men jikr-e-bahaar tha hi nahin

Additional Information

गीतकार : क़तील शिफ़ाई, गायक : मेहदी हसन, संगीतकार : -, गीत संग्रह/चित्रपट : - / Lyricist : Qateel Shifai, Singer : Mehadi Hassan, Music Director : -, Album/Movie : -

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

April 29 2020

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2020 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines