Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Kya Likhoon Kaise Likhoon / क्या लिखूं, कैसे लिखूं

क्या लिखूं, कैसे लिखूं, लिखने के भी काबिल नहीं 
यूँ समझ लीजे कि मैं पत्थर हूँ मुझमें दिल नहीं 

हर कदम पर आपने समझा सही मैंने गलत 
अब सफाई पेश कर के भी कोई हासिल नहीं 

इस तरह बढ़ती गईं कुछ रास्ते की उलझनें 
सामने मंज़िल थी मैं कहती रही मंज़िल नहीं 

मैं ये मानूं या न मानूं दिल मेरा कहने लगा 
अब मेरी नज़दीकियों में दूरियां शामिल नहीं 

(जिन किलों में बंद थी मैं मिट गए वो टूटकर
अब कोई बंदिश नहीं पहरा नहीं मुश्किल नहीं)
#Rameshwari


Kya Likhoon Kaise Likhoon Lyrics

Kya likhun, kaise likhun, likhane ke bhi kaabil nahin 
Yun samajh lije ki main patthar hun mujhamen dil nahin 

Har kadam par apane samajha sahi mainne galat 
Ab safaai pesh kar ke bhi koi haasil nahin 

Is tarah baढ़ati gin kuchh raaste ki ulajhanen 
Saamane mnzil thi main kahati rahi mnzil nahin 

Main ye maanun ya n maanun dil mera kahane laga 
Ab meri nazadikiyon men duriyaan shaamil nahin 

(ajin kilon men bnd thi main mit ge wo tutakar
Ab koi bndish nahin pahara nahin mushkil nahin)

Additional Information

गीतकार : रविन्द्र जैन, गायक : हेमलता, संगीतकार : रविन्द्र जैन, चित्रपट : मान अभिमान (१९८०) / Lyricist : Ravindra Jain, Singer : Hemlata, Music Director : Ravindra Jain, Movie : Maan Abhimaan (1980)

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

October 15 2019

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2020 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines