Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Ek Subah Ek Mod Par / एक सुबह एक मोड़ पर

एक सुबह एक मोड़ पर 
मैंने कहा उसे रोक कर 
हाथ बढ़ा ऐ ज़िन्दगी 
आँख मिला के बात कर 

रोज़ तेरे जीने के लिए 
एक सुबह मुझे मिल जाती है 
मुरझती है कोई शाम अगर 
तो रात कोई खिल जाती है 
मैं रोज़ सुबह तक आता हूँ 
और रोज़ शुरू करता हूँ सफर 

तेरे हज़ारों चेहरों में 
एक चहेरा है मुझ से मिलता है 
आँखों का रंग भी एक सा है 
आवाज़ का अंग भी मिलता है 
सच पूछो तो हम दो जुड़वाँ हैं 
तू शाम मेरी मैं तेरी सहर
#RajKiran


Ek Subah Ek Mod Par Lyrics

Ek subah ek mod par 
Mainne kaha use rok kar 
Haath baढ़a ai zindagi 
Ankh mila ke baat kar 

Roz tere jine ke lie 
Ek subah mujhe mil jaati hai 
Murajhati hai koi shaam agar 
To raat koi khil jaati hai 
Main roz subah tak ata hun 
Aur roz shuru karata hun safar 

Tere hazaaron cheharon men 
Ek chahera hai mujh se milata hai 
Ankhon ka rng bhi ek sa hai 
Awaaz ka ang bhi milata hai 
Sach puchho to ham do judawaan hain 
Tu shaam meri main teri sahar

Additional Information

गीतकार : गुलज़ार, गायक : -, संगीतकार : वनराज भाटिया, गीत संग्रह/चित्रपट : हिप हिप हुर्रे (१९८४) / Lyricist : Gulzar, Singer : , Music Director : Vanraj Bhatia, Album/Movie : Hip Hip Hurray (1984)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

October 04 2018

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2019 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines