Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Are Yaar Meri Tum Bhi Ho Gazab / अरे यार मेरी तुम भी हो गज़ब

अरे यार मेरी तुम भी हो गज़ब, घूँघट तो ज़रा ओढ़ो 
आहा मनाओ कहा अब तुम हो जवां मेरी जान लड़कपन छोड़ो 
जब मेरी चुनरिया मलमल की 
फिर क्यों न फिरूँ झलकी-झलकी 

कोई जो मुझको हाथ लगाएगा, हाथ न उसके आऊँगी 
में तेरे मन की लाल परी हूँ रे, मन में तेरे उड़ जाऊँगी 
तुम परी तो ज़रूर हो, पर बड़ी मशहूर हो
जब मेरी चुनरिया मलमल की 
फिर क्यों न फिरूँ झलकी-झलकी

देख के तरसे लाख ये भँवरे और इन्हें तरसाऊँगी 
तेरी गली की एक कली हूँ तेरे गेले लग जाऊँगी
तुम कली तो ज़रूर हो, पर बड़ी मशहूर हो
जब मेरी चुनरिया मलमल की 
फिर क्यों न फिरूँ झलकी-झलकी

डाल के घुँघटा रूप को अपने और नहीं मैं छुपाऊँगी 
सुंदरी बन के तेरी बलमवा आज तो मैं लहराऊँगी
सुंदरी तो ज़रूर हो, पर बड़ी मशहूर हो
जब मेरी चुनरिया मलमल की 
फिर क्यों न फिरूँ झलकी-झलकी
#DevAnand #Kalpana


Are Yaar Meri Tum Bhi Ho Gazab Lyrics

Are yaar meri tum bhi ho gazab, ghunghat to zara oढ़o 
Aha manaao kaha ab tum ho jawaan meri jaan ladakapan chhodo 
Jab meri chunariya malamal ki 
Fir kyon n firun jhalaki-jhalaki 

Koi jo mujhako haath lagaaega, haath n usake aungi 
Men tere man ki laal pari hun re, man men tere ud jaaungi 
Tum pari to zarur ho, par badi mashahur ho
Jab meri chunariya malamal ki 
Fir kyon n firun jhalaki-jhalaki

Dekh ke tarase laakh ye bhnware aur inhen tarasaaungi 
Teri gali ki ek kali hun tere gele lag jaaungi
Tum kali to zarur ho, par badi mashahur ho
Jab meri chunariya malamal ki 
Fir kyon n firun jhalaki-jhalaki

Daal ke ghunghata rup ko apane aur nahin main chhupaaungi 
Sundari ban ke teri balamawa aj to main laharaaungi
Sundari to zarur ho, par badi mashahur ho
Jab meri chunariya malamal ki 
Fir kyon n firun jhalaki-jhalaki

 

Additional Information

गीतकार : मजरूह सुलतानपुरी, गायक : किशोर कुमार - आशा भोसले, संगीतकार : सचिन देव बर्मन, चित्रपट : तीन देवियाँ (१९६५) / Lyricist : Majrooh Sultanpuri, Singer : Kishore Kumar - Asha Bhosle, Music Director : Sachin Dev Burman, Movie : Teen Devian (1965)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

April 16 2018

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2019 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines