Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Zindagi Ittefaq Hai / ज़िन्दगी इत्तिफ़ाक़ है

ज़िन्दगी इत्तिफ़ाक़ है 
कल भी इत्तिफ़ाक़ थी
आज भी इत्तिफ़ाक़ है 

जाम पकड़ बढ़ा के हाथ 
मांग दुआ घटे न साथ 
जान-ए-वफ़ा तेरी कसम 
कहते हैं दिल की बात हम
गर कोई मेल हो सके
आँखों का खेल हो सके
अपने को खुशनसीब जान
वक़्त को मेहरबान मान 
मिलते हैं दिल कभी कभी
वरना है अजनबी सभी
मेरे हमदम मेरे मेहरबां 
हर ख़ुशी इत्तिफ़ाक़ है
कल भी इत्तिफ़ाक़ थी
आज भी इत्तिफ़ाक़ है

हुस्न है और शबाब है
ज़िन्दगी कामयाब है
बज़्म यूँ ही खिली रहे
अपनी नज़र मिली रहे
रंग यूँ ही जमा रहे
वक़्त यूँ ही थमा रहे
साज़ की लय पे झूम ले
ज़ुल्फ़ के फन को चूम ले
मेरे किए से कुछ नहीं
तेरे किए से कुछ नहीं
मेरे हमदम मेरे मेहरबां 
ये सभी  इत्तिफ़ाक़ है
ज़िन्दगी इत्तिफ़ाक़ है 
कल भी थी इत्तिफ़ाक़ है 
आज भी इत्तिफ़ाक़ है 

कोई तो बात कीजिये 
यारों का साथ दीजिये 

कभी गैरों पे भी अपनों का गुमां होता है 
कभी अपने भी नज़र आते हैं बेगाने से 
कभी ख़्वाबों में चमकते हैं मुरादों के महल 
कभी महलों में उभर आते है वीराने से 

कोई रुत भी सदा नहीं 
क्या हो कब कुछ पता नहीं 
ग़म फज़ुल है ग़म न कर 
आज का जश्न कम न कर
मेरे हमदम मेरे मेहरबां 
हर ख़ुशी इत्तिफ़ाक़ है
कल भी इत्तिफ़ाक़ थी
आज भी इत्तिफ़ाक़ है 

खोये से हो क्यों इस कदर 
ढूढ़ती है किसे नज़र 

आज मालूम हुआ पहले ये मालूम न था
चाहतें बेहद के पशेमान भी हो जाती है
दिल के दामन से लिपटती हुई रंगीं नज़रे 
देखते देखते अन्जान भी हो जाती हैं

यार जब अजनबी बने
प्यार जब बेरुख़ी बने 
दिल पे सह जा गिला न कर 
सबसे हँसकर मिला नज़र
मेरे हमदम मेरे मेहरबां 
दोस्ती इत्तिफ़ाक़ है 
कल भी इत्तिफ़ाक़ थी
आज भी इत्तिफ़ाक़ है
#Dharmendra #Mumtaz #FerozKhan #SairaBanu #YashChopra


Zindagi Ittefaq Hai Lyrics

Zindagi ittifaaq hai 
Kal bhi ittifaaq thi
Aj bhi ittifaaq hai 

Jaam pakad baढ़a ke haath 
Maang dua ghate n saath 
Jaan-e-wafa teri kasam 
Kahate hain dil ki baat ham
Gar koi mel ho sake
Ankhon ka khel ho sake
Apane ko khushanasib jaan
Waqt ko meharabaan maan 
Milate hain dil kabhi kabhi
Warana hai ajanabi sabhi
Mere hamadam mere meharabaan 
Har khushi ittifaaq hai
Kal bhi ittifaaq thi
Aj bhi ittifaaq hai

Husn hai aur shabaab hai
Zindagi kaamayaab hai
Bazm yun hi khili rahe
Apani nazar mili rahe
Rng yun hi jama rahe
Waqt yun hi thama rahe
Saaz ki lay pe jhum le
Zulf ke fan ko chum le
Mere kie se kuchh nahin
Tere kie se kuchh nahin
Mere hamadam mere meharabaan 
Ye sabhi  ittifaaq hai
Zindagi ittifaaq hai 
Kal bhi thi ittifaaq hai 
Aj bhi ittifaaq hai 

Koi to baat kijiye 
Yaaron ka saath dijiye 

Kabhi gairon pe bhi apanon ka gumaan hota hai 
Kabhi apane bhi nazar ate hain begaane se 
Kabhi khwaabon men chamakate hain muraadon ke mahal 
Kabhi mahalon men ubhar ate hai wiraane se 

Koi rut bhi sada nahin 
Kya ho kab kuchh pata nahin 
Gam fazul hai gam n kar 
Aj ka jashn kam n kar
Mere hamadam mere meharabaan 
Har khushi ittifaaq hai
Kal bhi ittifaaq thi
Aj bhi ittifaaq hai 

Khoye se ho kyon is kadar 
Dhuढ़ati hai kise nazar 

Aj maalum hua pahale ye maalum n tha
Chaahaten behad ke pashemaan bhi ho jaati hai
Dil ke daaman se lipatati hui rngin nazare 
Dekhate dekhate anjaan bhi ho jaati hain

Yaar jab ajanabi bane
Pyaar jab berukhi bane 
Dil pe sah ja gila n kar 
Sabase hnsakar mila nazar
Mere hamadam mere meharabaan 
Dosti ittifaaq hai 
Kal bhi ittifaaq thi
Aj bhi ittifaaq hai

    

Related YouTube Videos

Zindagi Ittefaq Hai*AADMI AUR INSAAN*1969*Best Wishes and Good Luck !https://www.youtube.com/watch?v=KnwyOFlb018 https://www.youtube.com/watch?v=M-HQzjXkfGU https://en.wikipedia.org/wiki/Aadmi_Aur_Insaan ...
Mumtaz - Aadmi Aur Insaan - Zindagi Ittefaq HaiSexy Hot Mumtaz Song Zindagi Ittefaq Hai with Dharmendra from movie Aadmi Aur Insaan.

Additional Information

गीतकार : साहिर लुधियानवी, गायक : आशा भोसले - महेंद्र कपूर, संगीतकार : रवी, चित्रपट : आदमी और इन्सान (१९६९) / Lyricist : Sahir Ludhianvi, Singer : Asha Bhosle - Mahendra Kapoor, Music Director : Ravi, Movie : Aadmi Aur Insaan (1969)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

February 28 2018

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2018 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines