Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Na To Karvan Ki Talash Hai / न तो कारवाँ की तलाश है

न तो कारवाँ की तलाश है, न तो हमसफ़र की तलाश है 
मेरे शौक-ए-ख़ाना-ख़राब को तेरी रहगुज़र की तलाश है 

मेरे नामुराद जुनून का है इलाज कोई तो मौत है 
जो दवा के नाम पे ज़हर दे उसी चारागर की तलाश है  

तेरा इश्क़ है मेरी आरज़ू, तेरा इश्क़ है मेरी आबरू 
दिल इश्क़, जिस्म इश्क़ है और जान इश्क़ है
ईमान की जो पूछो तो ईमान इश्क़ है
तेरा इश्क़ है मेरी आबरू 
तेरा इश्क़ मैं कैसे छोड़ दूँ , मेरी उम्र भर की तलाश है 
तेरा इश्क़ मैं कैसे इश्क़-इश्क़ 
तेरा इश्क़ मैं कैसे इश्क़-इश्क़
इश्क़- इश्क़, इश्क़- इश्क़, इश्क़- इश्क़

ये इश्क़- इश्क़, इश्क़- इश्क़, इश्क़- इश्क़

जाँ-सोज की हालत को जाँ-सोज ही समझेगा 
मैं शमा से कहता हूँ महफ़िल से नहीं कहता
क्यों कि ये इश्क़ -इश्क़ है इश्क़- इश्क़

सहर तक सब का है अंजाम जल कर ख़ाक हो जाना 
बने महफ़िल में कोई शमा या परवाना हो जाए 
क्यों कि ये इश्क़ -इश्क़ है इश्क़- इश्क़

वहशत-ए-दिल रसनो दार से रोकी न गई 
किसी खंजर, किसी तलवार से रोकी न गई 

इश्क़ मजनूँ की वो आवाज़ है जिसके आगे 
कोई लैला किसी दीवार से रोकी न गई 
क्यों कि ये इश्क़ -इश्क़ है इश्क़- इश्क़

वो हँस के अगर माँगे तो हम जान भी दे दें 
ये जान तो क्या चीज़ है ईमान भी दे दें 
क्यों कि ये इश्क़ -इश्क़  है इश्क़- इश्क़

नाज़-ओ-अंदाज़ से कहते हैं कि जीना होगा 
ज़हर भी देते हैं तो कहते हैं कि पीना होगा 
जब मैं पीता हूँ तो कहते हैं कि मरता भी नहीं 
जब मैं मरता हूँ तो कहते हैं कि जीना होगा 
ये इश्क़ -इश्क़ है इश्क़- इश्क़

मजहब-ए-इश्क़ की हर रस्म कड़ी होती है 
हर कदम पर कोई दीवार ख़ड़ी होती है 
इश्क़ आज़ाद है हिन्दू न मुसलमान है इश्क़ 
आप ही धर्म है और आप ही ईमान है इश्क़ 
जिससे आगाह नहीं शैखों ब्राम्हण दोनों
उस हक़ीक़त का गरजता हुआ ऐलान है इश्क़

इश्क़ न पुच्छे दीन धरम नूँ इश्क़ न पुच्छे जाताँ 
इश्क़ दे हत्थों गरम लहू विच डुबयाँ लख बरताँ
क्यों कि ये इश्क़ -इश्क़ है इश्क़- इश्क़

राह उल्फ़त की कठिन है इसे आसां न समझ 
ये इश्क़ -इश्क़ है इश्क़- इश्क़
बहोत कठिन है डगर पनघट की 

बहोत कठिन है डगर पनघट की 
अब क्या भर लाऊँ मैं जमुना से मटकी 
मैं जो चली जल जमुना भरन को देखो सखी री
नन्द के छोरे मोहे रोके झाड़ों में
क्या भर लाऊँ मैं जमुना से मटकी 
अब लाज राखो मोरे घूँघट पट की 
लाज राखो राखो

जब जब कृष्ण की बन्सी बाजी निकली राधा सजके 
जान अजान का ज्ञान भुला के लोक लाज को तज के 
बन-बन डोली जनक दुलारी पहन के प्रेम की माला 
दर्शन जल की प्यासी मीरा, पी गई बिस का प्याला 
और फिर अर्ज करी की 
लाज राखो राखो राखो 

अल्लाह और रसूल का फ़र्मान इश्क़ है
यानी हदीस इश्क़ है कुरआन इश्क़ है 
गौतम का और मसीह का अरमान इश्क़ है 
ये कायनात जिस्म है और जान इश्क़ है 
इश्क़ सरमद, इश्क़ ही मंसूर है 
इश्क़ मूसा, इश्क़ कोहे-तूर है
ख़ाक को बुत और बुत को देवता करता है इश्क़
इंतिहा ये है कि बन्दे को ख़ुदा करता है इश्क़
तेरा इश्क़ -इश्क़ तेरा इश्क़- इश्क़
#Shyama #RatnaBhushan #BharatBhushan #Madhubala #BollywoodQawwali #Qawwali


Na To Karvan Ki Talash Hai Lyrics

N to kaarawaan ki talaash hai, n to hamasafr ki talaash hai 
Mere shauk-e-khaana-khraab ko teri rahagujr ki talaash hai 

Mere naamuraad junun ka hai ilaaj koi to maut hai 
Jo dawa ke naam pe jhar de usi chaaraagar ki talaash hai  

Tera ishk hai meri araju, tera ishk hai meri abaru 
Dil ishk, jism ishk hai aur jaan ishk hai
Imaan ki jo puchho to imaan ishk hai
Tera ishk hai meri abaru 
Tera ishk main kaise chhod dun , meri umr bhar ki talaash hai 
Tera ishk main kaise ishk-ishk 
Tera ishk main kaise ishk-ishk
Ishk- ishk, ishk- ishk, ishk- ishk

Ye ishk- ishk, ishk- ishk, ishk- ishk

Jaan-soj ki haalat ko jaan-soj hi samajhega 
Main shama se kahata hun mahafil se nahin kahata
Kyon ki ye ishk -ishk hai ishk- ishk

Sahar tak sab ka hai anjaam jal kar khaak ho jaana 
Bane mahafil men koi shama ya parawaana ho jaae 
Kyon ki ye ishk -ishk hai ishk- ishk

Wahashat-e-dil rasano daar se roki n gi 
Kisi khnjar, kisi talawaar se roki n gi 

Ishk majanun ki wo awaaj hai jisake age 
Koi laila kisi diwaar se roki n gi 
Kyon ki ye ishk -ishk hai ishk- ishk

Wo hns ke agar maange to ham jaan bhi de den 
Ye jaan to kya chij hai imaan bhi de den 
Kyon ki ye ishk -ishk  hai ishk- ishk

Naaj-o-andaaj se kahate hain ki jina hoga 
Jhar bhi dete hain to kahate hain ki pina hoga 
Jab main pita hun to kahate hain ki marata bhi nahin 
Jab main marata hun to kahate hain ki jina hoga 
Ye ishk -ishk hai ishk- ishk

Majahab-e-ishk ki har rasm kadi hoti hai 
Har kadam par koi diwaar khdi hoti hai 
Ishk ajaad hai hindu n musalamaan hai ishk 
Ap hi dharm hai aur ap hi imaan hai ishk 
Jisase agaah nahin shaikhon braamhan donon
Us hakikt ka garajata hua ailaan hai ishk

Ishk n puchchhe din dharam nun ishk n puchchhe jaataan 
Ishk de hatthon garam lahu wich dubayaan lakh barataan
Kyon ki ye ishk -ishk hai ishk- ishk

Raah ulft ki kathhin hai ise asaan n samajh 
Ye ishk -ishk hai ishk- ishk
Bahot kathhin hai dagar panaghat ki 

Bahot kathhin hai dagar panaghat ki 
Ab kya bhar laaun main jamuna se mataki 
Main jo chali jal jamuna bharan ko dekho sakhi ri
Nand ke chhore mohe roke jhaadon men
Kya bhar laaun main jamuna se mataki 
Ab laaj raakho more ghunghat pat ki 
Laaj raakho raakho

Jab jab krishn ki bansi baaji nikali raadha sajake 
Jaan ajaan ka jnjaan bhula ke lok laaj ko taj ke 
Ban-ban doli janak dulaari pahan ke prem ki maala 
Darshan jal ki pyaasi mira, pi gi bis ka pyaala 
Aur fir arj kari ki 
Laaj raakho raakho raakho 

Allaah aur rasul ka farmaan ishk hai
Yaani hadis ishk hai kuran ishk hai 
Gautam ka aur masih ka aramaan ishk hai 
Ye kaayanaat jism hai aur jaan ishk hai 
Ishk saramad, ishk hi mnsur hai 
Ishk musa, ishk kohe-tur hai
Khaak ko but aur but ko dewata karata hai ishk
Intiha ye hai ki bande ko khuda karata hai ishk
Tera ishk -ishk tera ishk- ishk

     

Additional Information

गीतकार : साहिर लुधियानवी, गायक : मन्ना डे - आशा भोसले - सुधा मल्होत्रा - मोहम्मद रफी, संगीतकार : रोशन, चित्रपट : बरसात की रात (१९६०) / Lyricist : Sahir Ludhianvi, Singer : Manna Dey - Asha Bhosle - Sudha Malhotra - Mohammad Rafi, Music Director : Roshan, Movie : Barsaat Ki Raat (1960)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

February 13 2018

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2019 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines