Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Mareez E Ishq Ka Kya Hai / मरीज़ ए इश्क़ का क्या है जिया जिया ना जिया

मरीज़ ए इश्क़ का क्या है जिया जिया ना जिया
है एक साँस का झगड़ा लिया लिया ना लिया

बदन ही आज अगर तार तार है मेरा 
तो एक चाक ग़रेबां सिया सिया ना सिया

ये और बात कि तू हर रहे ख़याल में है 
कि तेरा नाम जबां से लिया लिया न लिया 

मेरे ही नाम पे आया है जाम महफ़िल में 
ये और बात कि मैंने पिया पिया ना पिया 

ये हाल-ए-दिल सफ़ी मैं तो सोचता ही नहीं 
कि क्यों किसी ने सहारा दिया दिया ना दिया
#Nonfilmi #ghazal


Mareez E Ishq Ka Kya Hai Lyrics

Marij e ishk ka kya hai jiya jiya na jiya
Hai ek saans ka jhagada liya liya na liya

Badan hi aj agar taar taar hai mera 
To ek chaak garebaan siya siya na siya

Ye aur baat ki tu har rahe khayaal men hai 
Ki tera naam jabaan se liya liya n liya 

Mere hi naam pe aya hai jaam mahafil men 
Ye aur baat ki mainne piya piya na piya 

Ye haal-e-dil safi main to sochata hi nahin 
Ki kyon kisi ne sahaara diya diya na diya

 

Additional Information

गीतकार : डॉ. सफी हसन, गायक : हरिहरन, संगीतकार : हरिहरन, गीतसंग्रह/चित्रपट : हाज़िर (१९९२) / Lyricist : Dr.Safi Hassan, Singer : Hariharan, Music Director : Hariharan, Album/Movie : Hazir (1992)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

December 27 2017

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2019 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines