Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Rasm-E-Ulfat Ko Nibhaye To Nibhaye Kaise / रस्म-ए-उल्फ़त को निभाये तो निभाये कैसे

रस्म-ए-उल्फ़त को निभाएं तो निभाएं कैसे 
हर तरफ आग है दामन को बचाएं कैसे 

दिल की राहों में उठाते हैं जो दुनियावाले 
कोई कह दे की वो दीवार गिराएं कैसे 

दर्द में डूबे हुए नग़्मे हज़ारों हैं मगर 
साज़-ए-दिल टूट गया हो तो सुनाएं कैसे 

बोझ होता जो गमोँ का तो उठा भी लेते 
ज़िन्दगी बोझ बनी हो तो उठाएं कैसे 
#RehanaSultan #RaagMadhuvanti

Rasm-E-Ulfat Ko Nibhaye To Nibhaye Kaise Lyrics

Rasm-e-ulfat ko nibhaaen to nibhaaen kaise 
Har taraf ag hai daaman ko bachaaen kaise 

Dil ki raahon men uthhaate hain jo duniyaawaale 
Koi kah de ki wo diwaar giraaen kaise 

Dard men dube hue nagme hazaaron hain magar 
Saaz-e-dil tut gaya ho to sunaaen kaise 

Bojh hota jo gamon ka to uthha bhi lete 
Zindagi bojh bani ho to uthhaaen kaise 

 

Additional Information

गीतकार : नक्श लायलपूरी, गायक : लता मंगेशकर, संगीतकार : मदन मोहन, चित्रपट : दिल की राहें (१९७३) / Lyricist : Naqsh Lyallpuri, Singer : Lata Mangeshkar, Music Director : Madan Mohan, Movie : Dil Ki Rahen (1973)

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Manjusha Sawant

August 16 2016

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2020 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines