Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Main Phir Bhi Tumko Chahunga / मैं फिर भी तुमको चाहूँगा

तुम मेरे हो इस पल मेरे हो 
कल शायद ये आलम ना रहे 
कुछ ऐसा हो तुम तुम ना रहो 
कुछ ऐसा हो हम हम ना रहें 
ये रास्ते अलग हो जाएँ 
चलते चलते हम खो जाएँ 

मैं फिर भी तुमको चाहूँगा 
इस चाहत में मर जाऊँगा 
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा 

मेरी जान मैं हर खामोशी में 
तेरे प्यार के नग्में गाऊँगा 
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा  
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा  
इस चाहत में मर जाऊँगा 
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा 

ऐसे ज़रूरी हो मुझको तुम 
जैसे हवायें साँसों को 
ऐसे तलाशूँ मैं तुमको 
जैसे के पैर ज़मीनों को 
हँसना या रोना हो मुझे 
पागल सा ढूंढूं मैं तुम्हें 
कल मुझसे मोहब्बत हो ना हो 
कल मुझको इजाज़त हो ना हो 
टूटे दिल के टुकड़े ले कर  
तेरे दर पे ही रह जाऊँगा 

मैं फिर भी तुमको चाहूँगा  
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा  
इस चाहत में मर जाऊँगा 
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा

तुम यूँ मिले हो जबसे मुझे 
और सुनहरी मैं लगती हूँ 
सिर्फ लबों से नहीं अब तो 
पूरे बदन से हँसती हूँ 
मेरे दिन रात सलोने से 
सब हैं तेरे ही होने से 
ये साथ हमेशा होगा नहीं 
तुम और कहीं मैं और कहीं

लेकिन जब याद करोगे तुम 
मैं बन के हवा आ जाऊँगा 

मैं फिर भी तुमको चाहूँगा  
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा  
इस चाहत में मर जाऊँगा 
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा

Pal Bhar

(मैं फिर भी तुमको चाहूँगा 

पलभर तुम्हें जो ना सोचूँ तो 
धड़कनें तरसने लगती है
तुमको जो देख लूँ नम आँखें भी 
हौले से हँसने लगती है 
दिलसे दिलका ये मेल सनम 
जो कल ये हो जाए कम 
हालात बिगड़ भी जाए अगर 
हम दोनों बिछड़ भी जाए अगर 
यादों के चाँद शिकारे पर 
मैं तुमसे मिलने आऊँगा 
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा 
इस चाहत में मर जाऊँगा 

कुछ और था मैं कुछ और ही था
तुमने ही मुझको निखारा है 
अब जो भी मुझमे प्यारा है
वो हर रंग तुम्हारा है 
जो कल था तेरा साथ मिले
हाथों से न ये हाथ मिले 
अलविदा तुझे तू कह जाए 
ये प्यार अधूरा रह जाए 
कुछ आधे-अधूरे लम्हे लिए 
दिल का ये शहर सजाऊँगा)

ShraddhaKapoor

(मैं फिर भी तुमको चाहूँगी 
बाहों में तेरी आके लगा 
मेरा सफर तो यहीं तक है 
तुमसे शुरू तुमपे ही ख़तम
मेरी कहानी तुम्हीं तक है
दिल को जो दे राहत सी
तुझमें है वो ख़ामोशी 
सौ बार तलाश लिया खुदको
कुछ तेरे सिवा ना मिला मझको 
साँसों से रिश्ता तोड़ भी लूँ
तुमसे तोड़ न पाऊँगी
मैं फिर भी तुमको चाहूँगी
इस चाहत में मर जाऊँगी

आँखें खुली तो मैं देखूँ तुझे
सिर्फ़ यही फ़रमाइश है 
पहली तो मुझको याद नहीं 
तू मेरी आखिरी ख़्वाहिश है 
सह लूँ अब में तेरी कमी 
मुझसे ये होगा ही नहीं 
तुम ऐसे मुझ में शामिल हो 
तुम जान मेरी तुम ही दिल हो 
शायद मैं भूला दूँ खुद को भी 
पर तुमको भूल न पाऊँगी )
#ShraddhaKapoor #ArjunKapoor

Main Phir Bhi Tumko Chahunga Lyrics

Tum mere ho is pal mere ho 
Kal shaayad ye alam na rahe 
Kuchh aisa ho tum tum na raho 
Kuchh aisa ho ham ham na rahen 
Ye raaste alag ho jaaen 
Chalate chalate ham kho jaaen 

Main fir bhi tumako chaahunga 
Is chaahat men mar jaaunga 
Main fir bhi tumako chaahunga 

Meri jaan main har khaamoshi men 
Tere pyaar ke nagmen gaaunga 
Main fir bhi tumako chaahunga  
Main fir bhi tumako chaahunga  
Is chaahat men mar jaaunga 
Main fir bhi tumako chaahunga 

Aise zaruri ho mujhako tum 
Jaise hawaayen saanson ko 
Aise talaashun main tumako 
Jaise ke pair zaminon ko 
Hnsana ya rona ho mujhe 
Paagal sa dhundhun main tumhen 
Kal mujhase mohabbat ho na ho 
Kal mujhako ijaazat ho na ho 
Tute dil ke tukade le kar  
Tere dar pe hi rah jaaunga 

Main fir bhi tumako chaahunga  
Main fir bhi tumako chaahunga  
Is chaahat men mar jaaunga 
Main fir bhi tumako chaahunga

Tum yun mile ho jabase mujhe 
Aur sunahari main lagati hun 
Sirf labon se nahin ab to 
Pure badan se hnsati hun 
Mere din raat salone se 
Sab hain tere hi hone se 
Ye saath hamesha hoga nahin 
Tum aur kahin main aur kahin

Lekin jab yaad karoge tum 
Main ban ke hawa a jaaunga 

Main fir bhi tumako chaahunga  
Main fir bhi tumako chaahunga  
Is chaahat men mar jaaunga 
Main fir bhi tumako chaahunga

Pal Bhar

(amain fir bhi tumako chaahunga 

Palabhar tumhen jo na sochun to 
Dhadakanen tarasane lagati hai
Tumako jo dekh lun nam ankhen bhi 
Haule se hnsane lagati hai 
Dilase dilaka ye mel sanam 
Jo kal ye ho jaae kam 
Haalaat bigad bhi jaae agar 
Ham donon bichhad bhi jaae agar 
Yaadon ke chaand shikaare par 
Main tumase milane aunga 
Main fir bhi tumako chaahunga 
Is chaahat men mar jaaunga 

Kuchh aur tha main kuchh aur hi tha
Tumane hi mujhako nikhaara hai 
Ab jo bhi mujhame pyaara hai
Wo har rng tumhaara hai 
Jo kal tha tera saath mile
Haathon se n ye haath mile 
Alawida tujhe tu kah jaae 
Ye pyaar adhura rah jaae 
Kuchh adhe-adhure lamhe lie 
Dil ka ye shahar sajaaunga)

ShraddhaKapoor

(amain fir bhi tumako chaahungi 
Baahon men teri ake laga 
Mera safar to yahin tak hai 
Tumase shuru tumape hi khatam
Meri kahaani tumhin tak hai
Dil ko jo de raahat si
Tujhamen hai wo khaamoshi 
Sau baar talaash liya khudako
Kuchh tere siwa na mila majhako 
Saanson se rishta tod bhi lun
Tumase tod n paaungi
Main fir bhi tumako chaahungi
Is chaahat men mar jaaungi

Ankhen khuli to main dekhun tujhe
Sirf yahi faramaaish hai 
Pahali to mujhako yaad nahin 
Tu meri akhiri khwaahish hai 
Sah lun ab men teri kami 
Mujhase ye hoga hi nahin 
Tum aise mujh men shaamil ho 
Tum jaan meri tum hi dil ho 
Shaayad main bhula dun khud ko bhi 
Par tumako bhul n paaungi )

 

Additional Information

गीतकार : मनोज मुन्तशिर, गायक : अरिजीत सिंग, संगीतकार : मिथुन, चित्रपट : हाफ गर्लफ्रेंड (२०१७) / Lyricist : Manoj Muntashir, Singer : Arijit Singh, Music Director : Mithoon, Movie : Half Girlfriend (2017)

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Gandhar Sawant

December 06 2017

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2020 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines