Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Raat Khamosh Hai / रात खामोश है चाँद मदहोश है

रात खामोश है चाँद मदहोश है   
थाम लेना मुझे जा रहा होश है

मिलन की दास्ताँ, धड़कनों की जुबां 
गा रही है जमीं सुन रहा आसमान
गुनगुनाती हवा दे रही है सदा 
सर्द इस रात की गर्म आगोश है 

महकती ये फ़िज़ा जैसी तेरी अदा 
छा रहा रूह पर जाने कैसा नशा 
झूमता है जहां अजब है ये समा 
दिलके गुलज़ार में इश्क़ पुरजोश है 

Raat Khamosh Hai Lyrics

Raat khaamosh hai chaand madahosh hai   
Thaam lena mujhe ja raha hosh hai

Milan ki daastaan, dhadkanon ki jubaan 
Ga rahi hai jamin sun raha asamaan
Gunagunaati hawa de rahi hai sada 
Sard is raat ki garm agosh hai 

Mahakati ye fija jaisi teri ada 
Chha raha ruh par jaane kaisa nasha 
Jhumata hai jahaan ajab hai ye sama 
Dilake gulajaar men ishk purajosh hai 

Additional Information

गीतकार : -, गायक : जगजीत सिंग, संगीतकार : -, गीत संग्रह / चित्रपट : मुन्तज़िर, Lyricist : -, Singer : Jagjit Singh, Music Director : -, Album/Movie : Muntazir

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Umesh Gawade

Umesh Gawade

April 06 2016

geetmanjusha.com © 1999-2018 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines