Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Hain Sab Se Madhur Woh Geet / हैं सबसे मधुर वो गीत जिन्हें, हम दर्द के सुर में गाते हैं

हैं सबसे मधुर वो गीत जिन्हें, हम दर्द के सुर में गाते हैं
जब हद से गुज़र जाती है खुशी, आँसू भी छलकते आते हैं

काँटों में खिले हैं फूल हमारे, रंग भरे अरमानों के
नादान हैं जो इन काँटों से दामन को बचाए जाते हैं

जब ग़म का अन्धेरा घिर आए, समझो के सवेरा दूर नहीं
हर रात का है पैगाम यही, तारे भी यही दोहराते हैं

पहलू में पराये दर्द बसाके तू हँसना हँसाना सीख ज़रा
तूफ़ान से कह दे घिर के उठे, हम प्यार के दीप जलाते हैं
#DevAnand #UshaKiran #AmiyaChakravarty


Hain Sab Se Madhur Woh Geet Lyrics

Hain sabase madhur wo git jinhen, ham dard ke sur men gaate hain
Jab had se gujr jaati hai khushi, ansu bhi chhalakate ate hain

Kaanton men khile hain ful hamaare, rng bhare aramaanon ke
Naadaan hain jo in kaanton se daaman ko bachaae jaate hain

Jab gm ka andhera ghir ae, samajho ke sawera dur nahin
Har raat ka hai paigaam yahi, taare bhi yahi doharaate hain

Pahalu men paraaye dard basaake tu hnsana hnsaana sikh jra
Tufaan se kah de ghir ke uthhe, ham pyaar ke dip jalaate hain

  

Additional Information

गीतकार : शैलेन्द्र, गायक : तलत मेहमूद, संगीतकार : शंकर जयकिशन, चित्रपट : पतिता (१९५३) / Lyricist : Shailendra, Singer : Talat Mehmood, Music Director : Shankar Jaikishan, Movie : Patita (1953)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Administrator

Administrator

June 10 2012

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2019 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines