Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Ashaar Mere Yun To Zamane Ke Liye Hain / अशआर मेरे यूँ तो ज़माने के लिए हैं

अशआर मेरे यूँ तो ज़माने के लिए हैं 
कुछ शेर फकत उनको सुनाने के लिए हैं

अब ये भी नहीं ठीक के हर दर्द मिटा दे
कुछ दर्द कलेजें से लगाने के लिए हैं

आँखों में जो भर लोगे तो काँटों से चुभेंगे
ये ख्वाब तो पलकों पे सजाने के लिए हैं

देखूँ तेरे हाथों को तो लगता है तेरे हाथ 
मंदिर फकत दिप जलाने के लिए हैं

सोचो तो बड़ी चीज़ है तहज़ीब बदन की
वरना तो बदन आग बुझाने के लिए हैं

ये इल्म का सौदा ये रिसालें ये किताबें 
इक शख्स की यादों को भुलाने के लिए हैं


Ashaar Mere Yun To Zamane Ke Liye Hain Lyrics

Ashar mere yun to jmaane ke lie hain 
Kuchh sher fakat unako sunaane ke lie hain

Ab ye bhi nahin thhik ke har dard mita de
Kuchh dard kalejen se lagaane ke lie hain

Ankhon men jo bhar loge to kaanton se chubhenge
Ye khwaab to palakon pe sajaane ke lie hain

Dekhun tere haathon ko to lagata hai tere haath 
Mndir fakat dip jalaane ke lie hain

Socho to badi chij hai tahajib badan ki
Warana to badan ag bujhaane ke lie hain

Ye ilm ka sauda ye risaalen ye kitaaben 
Ik shakhs ki yaadon ko bhulaane ke lie hain

Song Videos

Ashaar mere yun toh zamane ke liye hain (Mukesh)Ashaar mere yun toh zamane ke liye hain (Mukesh)
Ashaar Mere Yun To Zamane Ke Liye Hain, Jan Nisar Akhtar, Mukesh, Khayyam, GhazalSinger : Mukesh Kumar, Ghazal : Jan Nisar Akhtar.
Umesh Gawade
Umesh Gawade
December 04 2012 Permalink
अशआर : Pural form of 'Sher'
Unkown Person liked this

Additional Information

गीतकार : जां निसार अख्तर, गायक : मुकेश, संगीतकार : -, गीत संग्रह/चित्रपट : - / Lyricist : Jaan Nisar Akhtar, Singer : Mukesh, Music Director : -, Album/Movie : -

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Chinmay Pandit

Chinmay Pandit

December 03 2012

geetmanjusha.com © 1999-2017 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines