Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Kabhi Kabhi Mere Dil Mein Khayaal (Mukesh) / कभी कभी मेरे दिल में खयाल आता है

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
के जैसे तुझ को बनाया गया है मेरे लिए
तू अब से पहले सितारों में बस रही थी कही
तुझे जमीं पे बुलाया गया है मेरे लिए

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
के ये बदन ये निगाहें, मेरी अमानत हैं 
ये गेसुओं की घनी छाँव है मेरी खातिर
ये होंठ और ये बाहें मेरी अमानत हैं 

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
के जैसे बजती हैं शहनाईयां सी राहों में
सुहाग रात है घूंघट उठा रहा हूँ मैं 
सिमट रही है, तू शरमा के अपनी बाहों में

कभी कभी मेरे दिल में ख़याल आता है
के जैसे तू मुझे चाहेगी उम्रभर यूँ ही
उठेगी मेरी तरफ प्यार की नजर यूँ ही
मैं जानता हूँ के तू गैर है मगर यूँ ही
#AmitabhBachchan #Rakhee #FilmfareBestMusicDirector #FilmfareBestSinger #FilmfareBestLyricist

Kabhi Kabhi Mere Dil Mein Khayaal (Mukesh) Lyrics

Kabhi kabhi mere dil men khayaal ata hai
Ke jaise tujh ko banaaya gaya hai mere lie
Tu ab se pahale sitaaron men bas rahi thi kahi
Tujhe jamin pe bulaaya gaya hai mere lie

Kabhi kabhi mere dil men khayaal ata hai
Ke ye badan ye nigaahen, meri amaanat hain 
Ye gesuon ki ghani chhaanw hai meri khaatir
Ye honthh aur ye baahen meri amaanat hain 

Kabhi kabhi mere dil men khayaal ata hai
Ke jaise bajati hain shahanaaiyaan si raahon men
Suhaag raat hai ghunghat uthha raha hun main 
Simat rahi hai, tu sharama ke apani baahon men

Kabhi kabhi mere dil men khayaal ata hai
Ke jaise tu mujhe chaahegi umrabhar yun hi
Uthhegi meri taraf pyaar ki najar yun hi
Main jaanata hun ke tu gair hai magar yun hi

  
  

Related YouTube Videos

Kabhi Kabhi Mere Dil Mein Khayal Aata Hai - By MukeshMukesh.
Kabhi Kabhi Mere Dil Mein Khayal Aata Hai - Kabhi KabhiKabhi Kabhi Mere Dil Mein Khayal Aata Hai - Kabhi Kabhi.

Additional Information

गीतकार : साहिर लुधियानवी, गायक : मुकेश, संगीतकार : खय्याम, चित्रपट : कभी कभी (१९७६) / Lyricist : Sahir Ludhianvi, Singer : Mukesh, Music Director : Khayyam, Movie : Kabhi Kabhie (1976)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Administrator

Administrator

June 10 2012

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2018 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines