Ye Kahan Aa Gaye Hum (Silsila) / मै और मेरी तनहाई, अक्सर ये बाते करते हैं - Hindi Songs's Lyrics
Hindi Songs

Hindi Songs's Lyrics

Ye Kahan Aa Gaye Hum (Silsila) / मै और मेरी तनहाई, अक्सर ये बाते करते हैं

मैं और मेरी तनहाई, अक्सर ये बाते करते हैं
तुम होती तो कैसा होता
तुम ये कहती, तुम वो कहती
तुम इस बात पे हैरान होती
तुम उस बात पे कितना हँसती
तुम होती तो ऐसा होता, तुम होती तो वैसा होता
मैं और मेरी तनहाई, अक्सर ये बाते करते हैं

ये कहाँ आ गए हम, यूँ ही साथ साथ चलते
तेरी बाहों में है जानम, मेरे जिस्म-ओ-जां पिघलते

ये रात है या तुम्हारी जुल्फे खुली हुई है
है चांदनी या तुम्हारी नज़रों से मेरी राते धुली हुई है
ये चाँद है, या तुम्हारा कंगन
सितारें हैं, या तुम्हारा आँचल
हवा का झोंका है, या तुम्हारे बदन की खुशबू
ये पत्तियों की है सरसराहट, कि तुम ने चुपके से कुछ कहा है
ये सोचता हूँ, मैं कब से गुमसुम
कि जब के, मुझको को भी ये खबर है, कि तुम नहीं हो, कहीं नहीं हो
मगर ये दिल है के कह रहा है, तुम यहीं हो, यहीं कहीं हो

तू बदन है, मैं हूँ छाया, तू ना हो तो मैं कहाँ हूँ
मुझे प्यार करनेवाले, तू जहाँ है मैं वहाँ हूँ
हमे मिलना ही था हमदम, किसी राह भी निकलते

मेरी साँस साँस महके, कोई भीना भीना चन्दन
तेरा प्यार चांदनी है, मेरा दिल है जैसे आँगन
हुई और भी मुलायम, मेरी शाम ढलते ढलते

मजबूर ये हालात, इधर भी है, उधर भी
तनहाई की एक रात, इधर भी है, उधर भी
कहने को बहोत कुछ है मगर किस से कहें हम
कब तक यूँ ही खामोश रहें और सहें हम
दिल कहता है दुनिया की हर एक रस्म उठा दे
दीवार जो हम दोनों में है, आज गिरा दे
क्यों दिल में सुलगते रहें, लोगों को बता दे
हाँ हम को मोहब्बत है, मोहब्बत है, मोहब्बत
अब दिल में यही बात, इधर भी है, उधर भी
#AmitabhBachchan #Rekha #YashChopra
Main aur meri tanahaai, aksar ye baate karate hain
Tum hoti to kaisaa hotaa
Tum ye kahati, tum wo kahati
Tum is baat pe hairaan hoti
Tum us baat pe kitanaa hansati
Tum hoti to aisaa hotaa, tum hoti to waisaa hotaa
Main aur meri tanahaai, aksar ye baate karate hain

Ye kahaaan a ge ham, yuan hi saath saath chalate
Teri baahon men hai jaanam, mere jism-o-jaan pighalate

Ye raat hai yaa tumhaari julfe khuli hui hai
Hai chaandani yaa tumhaari najron se meri raate dhuli hui hai
Ye chaaand hai, yaa tumhaaraa kngan
Sitaaren hain, yaa tumhaaraa aanchal
Hawaa kaa jhonkaa hai, yaa tumhaare badan ki khushabu
Ye pattiyon ki hai sarasaraahat, ki tum ne chupake se kuchh kahaa hai
Ye sochataa huan, main kab se gumasum
Ki jab ke, mujhako ko bhi ye khabar hai, ki tum nahin ho, kahin nahin ho
Magar ye dil hai ke kah rahaa hai, tum yahin ho, yahin kahin ho

Tu badan hai, main huan chhaayaa, tu naa ho to main kahaaan huan
Mujhe pyaar karanewaale, tu jahaaan hai main wahaaan huan
Hame milanaa hi thaa hamadam, kisi raah bhi nikalate

Meri saaans saaans mahake, koi bhinaa bhinaa chandan
Teraa pyaar chaandani hai, meraa dil hai jaise aangan
Hui aur bhi mulaayam, meri shaam dhalate dhalate

Majabur ye haalaat, idhar bhi hai, udhar bhi
Tanahaai ki ek raat, idhar bhi hai, udhar bhi
Kahane ko bahot kuchh hai magar kis se kahen ham
Kab tak yuan hi khaamosh rahen aur sahen ham
Dil kahataa hai duniyaa ki har ek rasm uthhaa de
Diwaar jo ham donon men hai, aj giraa de
Kyon dil men sulagate rahen, logon ko bataa de
Haaan ham ko mohabbat hai, mohabbat hai, mohabbat
Ab dil men yahi baat, idhar bhi hai, udhar bhi

  

Song Videos

Yeh Kahaan Aa Gaye Hum - Full Song | Silsila | Amitabh Bachchan | RekhaThe time spent with your loved one is always special. Get into the romantic mode with this beautiful song 'Yeh Kahaan Aa Gaye Hum' from 'Silsila'. Starring: ...
Yeh Kahan Aa Gaye Hum - SILSILA Movie SongsLyrics & Mp3 : http://www.rickybadboy.com/2012/01/yeh-kahan-aa-gaye-hum-lyrics-silsila.html Yeh Kahan Aa Gaye Hum - SILSILA Movie Songs Yeh Kahan Aa ...

Additional Information

गीतकार : जावेद अख्तर, गायक : लता - अमिताभ बच्चन, संगीतकार : शिव हरी, चित्रपट : सिलसिला (१९८१) / Lyricist : Javed Akhtar, Singer : Lata Mangeshkar - Amitabh Bachchan, Music Director : Shiv Hari, Movie : SilSila (1981)

Share this song

Hindi Songs Lyrics Submitted By

Administrator

Administrator

June 10 2012

You may also like these pages:

geetmanjusha.com © 1999-2016 Manjusha Umesh | Privacy | Community Guidelines